सेन गुप्ता (जन्मदिवस)

डॉ. अमिताव सेन गुप्ता, कार्यकारी निदेशक, सी एस आई आर - राष्ट्रीय भौतिक प्रयोगशाला के जन्मदिन पर  

सारे हुए एकत्र और सबकी ऐसी राय।
जन्मदिवस पर आपके कविता भी हो जाए।।
कविता भी हो जाए मगर यह समझ न पाऊं।
इनकी अद्भुत प्रतिभा को कैसे बतलाऊं।।
सोच संकुचित है मेरी और ज्ञान अधूरा।
दें जगती आशीष छंद हो जाए पूरा।।

चलो काम की बात ही आपस में की जाए।
दस-दस घंटे काम जो करे आज बतलाए।।
करे आज बतलाए नहीं कोई भी लगता।
लेकिन  हमसब जानें इनमें इतनी क्षमता।।
उम्र बढ़े तो कहते हैं श्रम-शक्ति सताती।
उल्टे इनकी ललक काम की बढ़ती जाती।। 

कहते हैं चिढ़चिढ़ा भी हो जाता इंसान।
इस लक्षण का भी यहाँ कोई नहीं निशान।।
कोई नहीं निशान पास जब इनके जाते।
सहज भाव और संवेदनशीलता दिखाते।।
संचालन में  संयम की सीमा नहीं टूटी।
उम्र दिखाती असर हो गई साबित झूठी।।

किस पहलू को छोड़ दें क्या-क्या करें बखान।
सारा एन पी एल ही गाता है गुणगान।।
गाता है गुणगान नाम जब इनका आए।
हर कोई अब इन्हें निदेशक पद पर चाहे।।
मुँह देखी तारीफ नहीं सौ प्रतिशत सच है।
चाहे जिससे  पूछ ले जिसको कोई शक है।।

स्वास्थ्य बना रहे आपका और बड़ा हो नाम।
आने वालों के लिए लिखो नए पैगाम।।
लिखो नए पैगाम फाउन्टेन रंग जमाए।
एक एक्सटेंशन मिली दूसरी भी हो जाए।।
सर्दी हुई समाप्त बसंती रितु भी आई।
जन्मदिवस की करो आप स्वीकार बधाई।।

जगती = माँ सरस्वती